कथावाचक जया किशोरी की फोटो से छेड़छाड़ करके पहनाई गई क्रिसमस कैप



कुछ समय पहले मशहूर कथावाचक मुरारी बापू के एक बयान पर विवाद हुआ था. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, उन्होंने अपने प्रवचन में श्रीकृष्ण के पूर्वजों पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी और उनके भाई बलराम को शराबी कहा था. इससे बीजेपी के पूर्व विधायक पबुभा माणेक आपा खो बैठे थे और उन्होंने उन पर हमला करने की भी कोशिश की थी. अब एक और कथावाचक जया किशोरी की क्रिसमस कैप पहने हुए तस्वीरें सोशल मीडिया पर विवाद का सबब बन गई हैं. जया की दो तस्वीरों का एक कोलाज वायरल हो रहा है जिसमें उन्होंने लाल रंग के कुर्ते और दुपट्टे के साथ सफेद बॉर्डर वाली लाल क्रिसमस कैप लगाई हुई है. एक यूजर ने इस कोलाज को शेयर करते हुए लिखा, “यह सैंटा का फुग्गे वाला फोटो किसी ईसाई महिला या बॉलीवुड की सिनेमा तारिका का नहीं बल्कि हिन्दू कथा वाचिक जय किशोरी जी का है. वही जय किशोरी जी जिनके भजनों पर करोड़ों हिन्दू झूमते हैं और लाखों हिन्दू जिन्हे आदर्श मानते हैं. इनको इतना मान-सम्मान-धन-दौलत सब कुछ हिन्दू कथा वाचिक के रूप में प्राप्त हुआ पर जब सब कुछ मिल गया तब इन्हे भी अन्य कथा वाचकों की तरह सर्व धर्म समभाव का कीड़ा काटने लगा. लगता है जया किशोरी जी ने मोरारी वाले कांड से कुछ नहीं सीखा. हमें तो लगता था कि मोरारी कांड से इन लोगों की बुद्धि ठिकाने आ गई होगी पर लगता है कि एक और अभियान आवश्यक है.”