प्लेटफार्म टिकट पर ‘अडानी रेलवे’ लिखा दिखाती ये तस्वीर फर्जी है



सोशल मीडिया पर यूजर्स इस तस्वीर को शेयर करते वक्त रेलवे को अडानी ग्रुप को ‘बेचने’ के लिए सरकार की आलोचना भी कर रहे हैं. कई ने कमेंट भी किए हैं कि अडानी ग्रुप ने प्लेटफॉर्म टिकट के दाम 10 रुपये से बढ़ाकर 50 रुपये कर दिए. इंडिया टुडे एंटी फेक न्यूज वॉर रूम (AFWA)ने तस्वीर को छेड़छाड़ से फर्जी तैयार किया गया पाया है. मूल तस्वीर में ‘अडानी रेलवे’ या रेलवे के ग्रुप की निजी संपत्ति होने जैसी कोई बात नहीं लिखी है. हालांकि यह सच है कि भारतीय रेलवे ने कोविड-19 महामारी के बीच रेलवे स्टेशनों पर भीड़ कम रखने के लिए प्लेटफॉर्म टिकट के दाम बढ़ाए हैं.